IAS गिरफ्तार – 1 लाख रुपए की रिश्वत लेते एंटी करप्शन ब्यूरो ने रंगे हाथों दबोचा

 

जयपुर। राजस्थान की कोटा एसीबी टीम ने मंगलवार को नई दिल्ली में बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। टीम ने केंद्र सरकार के भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) के सहायक महानिदेशक पंकज गोयल को 1 लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों नई दिल्ली क्षेत्रीय कार्यालय से गिरफ्तार किया है।राजस्थान भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक बीएल सोनी ने बताया कि एसीबी के कोटा कार्यालय में परिवादी ने शिकायत कि उसने आधार पहचान पत्र बनाने की फ्रेंचाइजी के लिए कई बार आवेदन किया था, लेकिन उसे फ्रेंचाइजी नहीं मिली। नई दिल्ली में स्थित यूआईडीएआई के क्षेत्रीय कार्यालय में सहायक महानिदेशक पंकज गोयल से उसने सम्पर्क किया। गोयल ने फ्रेन्चाइजी आवंटित करने के बदले में मोटी रिश्वत की डिमांड की।

रिश्वत कांड के अभियुक्त पंकज गोयल देश के पांच राज्यों में आधार पहचान पत्र का कार्य देख रहे हैं। एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एमएन के निर्देशन में एसीबी के कोटा ब्यूरो में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चन्द्रशील ठाकुर के नेतृत्व में उक्त शिकायत का सत्यापन करवाया। जिसमें पंकज गोयल के रिश्वत मांगे जाने की पुष्टि हुई।

सोनी ने बताया कि इस पर ब्यूरो के दल ने दिल्ली क्षेत्रीय कार्यालय में जाल बिछाकर पंकज गोयल को परिवादी से 1 लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। पंकज गोयल के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 के तहत मामला दर्ज करके मामले की जांच की जा रही है। ब्यूरो टीम गोयल से पूछताछ कर रही है।