17 हाथियों का दल पहुंचा अंबिकापुर राजमार्ग…..एक घंटा रास्ता रहा बाधित…. ग्रामीणों में दहशत

 

गांव में लगातार मुनादी कराई जा रही हैं। नन्हे हाथियों के साथ होने की वजह से दल अधिक संवेदनशील होने4 के साथ और आक्रामक हो गया है।

हाथियों का इन दिनों चार टुकड़ियों में बंटा है। इनमें दो दल पसान वन परिक्षेत्र में वहीं दो दल केंद्रई और ऐतमानगर में विचरण कर रहे हैं। मंगलवार की सुबह कांपानवापारा के पास हाथियों का दल सड़क में पहुंच गया। इसकी सूचना मिलते ही वन अमले की टीम पहुंच गई। 17 हाथियों के दल हाईवे मार्ग से गुजरते हुए देखने लिए आसपास के ग्रामीणों की भीड़ लगी रही। कटघोरा वन मंडल के डीएफओ ने बताया कि हाथियों के दल पर निगरानी रखी जा रहा है। बताना होगा कि आवासी क्षेत्र के आसपास दल के होने से लोगों में भय का वातारण देखा जा रहा है। इन दिनों खेतों फसल की कटाई होने से दल को रहवासी क्षेत्रों में विचरण करते हुए देखा जा रहा है। हाथियों के दल को खदेड़े जाने के बाद परला के पास देखा गया। 17 हाथियों के दल में दो नन्हे हाथी भी शामिल हैं।

अधिकारियों की माने तो विचरण क्षेत्र वाले गांवों में लगातार मुनादी कराई जा रही हैं। नन्हे हाथियों के साथ होने की वजह से दल अधिक संवेदनशील होने के साथ आक्रामक हैं। ग्रामीणों को सलाह दी जा रही है कि वे दल के निकट न जाएं।